Search
Close this search box.

Apritpal Singh statement on Khalistan and Lovepreet Singh released from jail | EXCLUSIVE: अमृतपाल का बवाल, किस ‘तूफान’ का प्लान? क्या है ‘नये भिंडरावाले’ का इरादा?

अपने समर्थकों के बीच...- India TV Hindi
Image Source : PTI
अपने समर्थकों के बीच अमृतपाल सिंह।

चंडीगढ़: कुछ दशक पहले आतंकवाद का कहर झेल चुका पंजाब एक बार फिर सुलगने लगा है। सूबे में एक बार फिर खालिस्तान की गूंज सुनाई देने लगी है। खालिस्तान समर्थक अमृतपाल सिंह ने अलग खालिस्तान की मांग को लेकर एक फिर जहर उगला है। अमृतपाल ने कहा है कि आजादी के पहले भारत नहीं था, और वह भारत की परिभाषा को नहीं मानता। पिछले दो दिनों में जैसी तस्वीरें पंजाब से आई हैं, उन्हें देखकर लगता है कि वह भारत ही नहीं बल्कि भारत के कानून को भी नहीं मानता।

जेल से बाहर आया लवप्रीत तूफानी

जिस लवप्रीत तूफानी की वजह से पिछले 2 दिनों से पंजाब में तूफान आया हुआ था, वह अब जेल से बाहर आ गया है। अमृतसर जेल से लवप्रीत के बाहर निकलने के बाद समर्थकों ने जबरदस्त नारेबाजी की, और उसने भी ‘सत श्री अकाल’ के नारे लगाए। रिहाई के बाद तूफानी ने कहा, ‘मेरे पर लगे आरोप बेबुनियाद हैं। अमृतपाल सिंह सिख कौन के जरनैल (जनरल) हैं।’ लवप्रीत और अमृतपाल के बयानों को गौर से सुनें तो उनमें खालिस्तान की गूंज सुनाई देती है।

amritpal singh, lovepreet toofan, ssp amritsar, ajnala police station, waris punjab de

Image Source : PTI

जेल से छूटने के बाद समर्थकों संग नारे लगाता लवप्रीत तूफानी।

‘लोकतंत्र में खालिस्तान की मांग गलत नहीं’
अमृतपाल सिंह ने अपने ताजा बयान में कहा है कि लोकतंत्र में खालिस्तान की मांग गलत नहीं है। उसने कहा, ‘खालिस्तान के लिए शांतिपूर्ण आंदोलन हमारा हक है, और आप हमारे लोकतांत्रिक अधिकार को दबा नहीं सकते।’ अमृतपाल ने कहा कि पंजाब एक अलग देश है और सिखों के साथ 1947 से ही अन्याय हो रहा है। उसने कहा कि जब तक ये होता रहेगा हम लड़ते रहेंगे। अमृतपाल ने लवप्रीत तूफानी के खिलाफ दर्ज FIR को भी फेक बताया।

पंजाब में आनेवाले तूफान का इशारा है लवप्रीत की रिहाई
लवप्रीत तूफानी की गिरफ्तारी और अब रिहाई के बाद सवाल उठ रहे हैं कि क्या पंजाब की पुलिस अमृतपाल सिंह के बनाए गए दबाव के आगे झुक गई। अमृतपाल ने अपने समर्थकों के दम पर लवप्रीत तूफानी को रिहा करा कर पंजाब में आनेवाले तूफान का संकेत दे दिया है। लोगों के मन में सवाल है कि क्या भिंडरावाले को अपना गुरू मानने वाले अमृतपाल ने एक बार पंजाब की आजादी की जंग छेड़ दी है। सरकार की खामोशी पंजाब का फिक्र करने वालों की चिंता बढ़ाने के लिए काफी है।

amritpal singh, lovepreet toofan, ssp amritsar, ajnala police station, waris punjab de

Image Source : PTI

पुलिस से भिड़ते हुए अमृतपाल सिंह के समर्थक।

कौन है पंजाब पुलिस को ललकारने वाला अमृतपाल सिंह?
अमृतपाल सिंह खालिस्तान का समर्थक है और वह 2022 में अभिनेता दीप सिद्धू की मौत के बाद ‘वारिस पंजाब दे’ का प्रमुख बना। अमृतपाल ने दीप सिद्धू की बरसी पर अलग खालिस्तान के समर्थन में भड़काऊ भाषण दिया था। सोशल मीडिया पर अमृतपाल के खिलाफ बोलने पर उसके समर्थकों ने एक शख्स को अगवा कर उसकी पिटाई की थी। पुलिस ने इस मामले में लवप्रीत तूफानी सहित कई लोगों पर केस दर्ज किया। बाद में लवप्रीत को रिहा कराने के लिए अमृतपाल और उसके सैकड़ों समर्थक अजनाला थाने में घुसे और आज वह रिहा भी हो गया।

Latest India News

Source link

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer