Search
Close this search box.

Giridih constable arms loot case police solved the case with in six hours

हाइलाइट्स

सिपाही से पिस्टल लूट की घटना झारखंड में हुई थी
गिरिडीह पुलिस ने 6 घंटे बाद ही इस केस का खुलासा कर लिया है
गोलीबारी की मुख्य वजह पिस्टल लूट ही थी

रिपोर्ट- एजाज अहमद

गिरिडीह. मंगलवार की रात गिरिडीह में हुई गोलीबारी और सिपाही से रिवॉल्वर लूट की घटना का पुलिस ने खुलासा कर लिया है. अपराधियों की गोली के शिकार गिरिडीह सेंट्रल जेल के सिपाही शशि भूषण यादव की हालत फिलहाल खतरे से बाहर है. गंभीर अवस्था में देर रात उसे दुर्गापुर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घटना के बाद मुफस्सिल पुलिस ने महज 6 घंटे में ही पूरे कांड का उद्भेदन कर लिया है. इसमें घटना को अंजाम देने वाले अंतर जिला गिरोह के दो अपराधियों को गिरफ्तार करने के साथ ही सिपाही से लूटी गई पिस्टल और घटना में प्रयुक्त बाइक को भी पुलिस ने बरामद कर लिया है.

गिरफ्तार दो अपराधियों में एक दीप कुमार जो देवघर जिले के रिखिया थाना क्षेत्र के पंचमुखी मंदिर बायपास रोड का रहने वाला है तो दूसरा धनंजय कुमार मुफस्सिल थाना क्षेत्र के तुरूकडीहा गांव का निवासी है जबकि एक अपराधी फरार है, जिसे दबोचने को लेकर पुलिस की ताबड़तोड़ छापेमारी जारी है. पुलिस ने खुलासा किया कि जवान का हथियार छीनने के लिए अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया था. इसे लेकर लोग पहले से ही घात लगाए शराब दुकान के पास खड़े थे. वहां जैसे ही जवान पहुंचा कि अपराधियों ने उसके पास मौजूद लाइसेंसी रिवाल्वर को छीन कर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी और रिवाल्वर लेकर फरार हो गए थे.

आपके शहर से (गिरिडीह)

घायल जवान बिहार के भोजपुर जिले का रहने वाला है और आर्मी से रिटायर होने के बाद उसे दो साल पूर्व गिरिडीह सेंट्रल जेल में सिपाही के पद पर नौकरी मिली थी. गिरिडीह एसपी अमित रेनू ने प्रेस वार्ता में बताया कि केंद्रीय कारा में कक्षपाल के पद पर प्रतिनियुक्त भूतपूर्व सैनिक शशि भूषण यादव और केंद्रीय कारा का सिपाही बिहारी मंडल दोनों किसी काम से गिरिडीह टुंडी रोड स्थित रिलायंस पेट्रोल पंप के समक्ष 21 फरवरी 2023 की रात गए थे. इसी क्रम में ये घटना हुई थी.

रिलायंस पेट्रोल पंप के पास सरकारी शराब दुकान के सामने दो तीन अपराधी जेल कर्मियों को जान-माल की क्षति पहुंचाने की नियत से खड़े थे. दोनों जेल के कर्मी जैसे पेट्रोल पंप के सामने पहुंचे कि अपराधियों ने कक्षपाल शशि भूषण यादव का निजी पिस्टल छीनकर उसे टारगेट कर गोली मार दी, जिससे कक्षपाल गंभीर रूप से घायल हो गए. अपराधी कक्षपाल की पिस्टल लेकर बाइक से फरार हो गए. इसे लेकर पुलिस ने ताबड़तोड़ छापेमारी की और इस कांड में संलिप्त अपराध कर्मियों को गिरफ्तार किया.

Tags: Giridih news, Jharkhand news

Source link

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer