Search
Close this search box.

22 जनवरी को तरैया के रामबाग में भगवान श्रीराम के 26 फीट ऊंची मूर्ति का होगा अनावरण

◆ घंटी बाबा मंदिर परिसर में बनकर तैयार श्रीराम प्रभु और हनुमानजी के मूर्ति का सांसद सिग्रीवाल करेंगे अनावरण।

◆ मूर्ति अनावरण कार्यक्रम को भव्य रूप देने में जुटे हैं मंदिर कमिटी के सदस्य।

न्यूज4बिहार/संवाददाता/छपरा :तरैया प्रखंड के रामबाग एसएच-73 किनारे स्थित श्री संकट मोचन घंटी बाबा दरबार में नवनिर्मित मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के 26 फीट ऊंची मूर्ति का अनावरण 22 जनवरी को होगा। मंदिर निर्माण कमिटी के संयोजक असम भाजपा नेता संजय सिंह व कोलकाता के प्रसिद्ध व्यवसायी देव कुमार सिंह ने बताया कि 22 जनवरी को संकट मोचन घंटी बाबा के दरबार में 26 फीट ऊंची भगवान श्रीराम की मूर्ति एवं 25 फीट ऊंची श्रीहनुमान जी की मूर्ति का अनावरण महाराजगंज सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल करेंगे। मंदिर निर्माण से सम्बंधित जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि इस मंदिर की स्थापना वर्ष-1993 में की गई थी। जब इस सड़क का चौड़ीकरण हुआ तो रामबाग पुल से गंडार पुल तक काफी दुर्घटनाएं होने लगी। जिसको लेकर वे लोग काफी चिंतित हुए और इस बात को उनलोगों ने प्रसिद्ध संत शिरोमणि श्री श्री 108 श्री नारद जी महाराज के समक्ष रखी एवं उनके आदेश के बाद पुनः मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हुआ और वर्ष 2017 में मंदिर के ऊपरी तल्ला पर संकटमोचन श्रीहनुमानजी के मूर्ति का निर्माण कार्य शुरू हुआ जो 14 अप्रैल 2020 को बनकर तैयार हुआ। भाजपा नेता संजय सिंह ने बताया कि श्रीहनुमान जी की मूर्ति बन जाने के बाद जब वह छठ पूजा घर आए थे तो उन्हें सपना आया कि बिन राम के यह हनुमान अधूरे हैं और उसी समय उन्होंने सोचा कि भगवान श्रीराम को रामबाग की धरती पर लाना है और इसी सोच के साथ उन्होंने वर्ष 2023 में भगवान श्रीराम के 26 फीट ऊंचे मूर्ति का निर्माण कार्य शुरू कराया गया। ये दोनों मूर्तियां पूर्वी चंपारण मोतिहारी के मूर्तिकार नरेश पंडित एवं उनके सहयोगियों द्वारा किया गया है। उन्होंने बताया कि सबसे अजीब बात यह है कि यहां गंगा-जमुनी तहजीब का मिशाल हिंदू-मुस्लिम एकता का प्रतीक है कि भगवान श्रीराम जी के धनुष का निर्माण मुस्लिम अंसारी और इस्माइल मिस्त्री के द्वारा किया गया है। संजय सिंह ने कहा कि उनकी दिवंगत मां सोना देवी के स्मृति में शिवरात्रि के पहले मंदिर परिसर में विशाल शिवलिंग और नंदी की स्थापना किया जाएगा और नौ दिवसीय यज्ञ का आयोजन कर मंदिर में स्थापित मूर्ति का प्राण प्रतिष्ठा होगा। अब तक इस मंदिर के निर्माण में लाखों रुपए खर्च हो चुके हैं, जिसमें मुख्य रूप से असम मरग्रेटा के विधायक भास्कर शर्मा, एवं कार्बन इरोरसेज कंपनी के डायरेक्टर सुरेश जलान ने किया है। वहीं स्थानीय लोगों का भी काफी सहयोग मिला है। उन्होंने कहा कि मूर्ति अनावरण को लेकर घंटी बाबा मंदिर परिसर व पूजन स्थल की साफ सफाई व रंगरोहण का कार्य काफी युद्ध स्तर पर चल रहा है। इसकी तैयारी पूर्ण कर ली गई है। 22 जनवरी को मंदिर परिसर को भव्य रूप से सजाया जाएगा और भगवान श्रीराम के विशाल मूर्ति का अनावरण होगा और प्रसाद स्वरूप विशाल भंडारे का भी आयोजन किया गया है। उन्होंने आसपास के सभी श्रद्धालुओं से इस मूर्ति अनावरण कार्यक्रम में शामिल होने का आग्रह किया है। मंदिर कमिटी में मुख्य रूप से भृगुनाथ सिंह, ब्रजकिशोर सिंह, ओम प्रकाश सिंह, श्रीकांत सिंह, मुन्ना तिवारी, अमरनाथ सिंह, सिद्धार्थ सिंह व यहां के युवा काफी सक्रिय रूप से लगे हुए हैं।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer