Search
Close this search box.

बिजली के सार्ट सर्किट होने से छः झोपड़ी में लगी भीषण आग!

आगलगी में गरीब पीड़ित परिवार का अनाज कपड़ा रुपया गहना तक जलकर खाक हो गया।

अमनौर(सारण)स्थानीय थाना क्षेत्र के अमनौर कल्याण पंचायत के परमानंद छपरा गांव में बिजली के सॉर्ट सर्किट लगने से रविवार को रात 8.15 बजे को छः फुस के घर मे भीषण आग लग गई।आगलगी होने से राजू राउत,मुकेश राउत, टुनू राउत,अवधेश राउत,मिथलेश राउत, मनु राउत की फुस का घर जलकर खाक हो गई।घटना के समय घर के सभी पुरुष शादी समारोह में शामिल होने गए थे।वही घर की महिलाएं खाना बना रही थी। केवल छोटे बच्चे व घर की महिलाएं घर मे थी। आस पड़ोस एवं घर के लोग आग के उठते लाफ़ देख शोर मचाया तब जाकर घर के अंदर बैठी महिलाये आनन फानन में बाहर निकली।स्थानीय लोग लोटा बाल्टी लेकर आग बुझाने की काफी कोशिश किया लेकिन आग की लफक तेज होने से लोग असफल हुए।आगलगी की सूचना मिलते ही अग्निशामक कि गाड़ी मौके पर पहुँच आग बुझाया परन्तु आगलगी से घर के अंदर रखा सबकुछ जलकर पल भर में राख हो गया।पीड़ित गृह स्वामी सपना देवी,इंदु देवी, बिजन्ती देवी आगलगी की घटना से आहत होकर फुट फुट कर रो रही थी।आगलगी में एक कपड़ा तक नही बचा कहा रहेंगे क्या खाएंगे बोल बोल के तड़प रही थी।लोगो ने बताया कि महिला पुरुष काफी गरीब असहाय है।महिला पुरुष दूसरे के खेत बटाई में बोकर किसी तरह मजदूरी करके लड़की , लड़का का लालन पालन करते है।बच्चे भी माता पिता का सहयोग करते है।लेकिन आगलगी की घटना ने कुछ भी नही छोड़ा। पीड़ित महिला गिरिजा कुंवर, उषा कुंवर ने बताता की छः परिवारों में कुल एक लाख नगद रुपया,अनाज,कपड़ा चौकी पलंग ,गोदरेज, बर्तन गहना साइकिल किताब सबकुछ जलकर खाक हो गया। मुखिया पति मुनचुन सिंह व बीडीसी प्रतिनिधि मुनबचा सिंह एवं मकेर थाना एवं अमनौर थाना मौके पर पहुँच घटना की तहकीकात किया।वही अंचलाधिकारी के द्वारा प्लास्टिक का त्रिपाल और कम्बल दिया गया।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer