Search
Close this search box.

आक्रोशित ग्रामीणों ने मुखिया का किया घेराव।

संवाददाता चंद्रशेखर कुमार।

   न्यूज4बिहार -भागलपुर जिला अन्तर्गत नाथनगर प्रखंड क्षेत्र के निस अम्बे पंचायत में सैकड़ो के तादाद में पहुंचे ग्रामीणों ने मुखिया नीलू देवी के घर पर जमकर हंगामा किया। सप्लाई वाटर पानी नहीं मिलने से नाराज ग्रामीणों ने मुखिया के घर पर पहुंचकर मंगलवार को जमकर हंगामा किया और नारेबाजी भी की, जानकारी के लिए आपको बता दे की निस अम्बे पंचायत के दिग्गी गांव में करीब डेढ़ साल से पानी की समस्या को लेकर लोग जूझ रहे हैं, लेकिन निजात दिलाने के लिए ना तो अधिकारी ध्यान दे रहे हैं, ना ही स्थानीय जनप्रतिनिधि जिससे आक्रोश होकर सैकड़ो के तादाद में मंगलवार को ग्रामीण मुखिया के घर पहुंच गए, जहां पर उन्होंने जमकर हंगामा किया, इधर घटना की जानकारी मिलने के बाद मधुसुदनपुर पुलिस मौके पर पहुंची। तब जाकर आक्रोशित ग्रामीण शांत हुए।

 

आक्रोशित लोगों का साफ तौर पर करना है की मुखिया से जब मिलने के लिए आए तो मुखिया ने कहा कि हम पब्लिक का सेवा नहीं करेंगे, पब्लिक का हम नौकर नहीं है, यही नहीं हरिजन एक्ट के तहत झूठ मुकदमा में फंसने की भी बात कर दी, जिससे नाराज लोगों ने जमकर हंगामा किया

अक्रोसित महिला आशा देवी ने बताया कि बीते डेढ़ साल पूर्व से हमारे गांव के मोटर खराब है पीएचडी विभाग के अंतर्गत आने से हम लोगों का कोई सुनने वाला नहीं है, जब मुखिया के घर पहुंचे तो उन्होंने कहा कि हम पब्लिक का नौकर नहीं है, जो पब्लिक का काम करेंगे, जिससे आक्रोशित लोगों ने मुखिया का घेराव करते हुए,जमकर हंगामा किया हालांकि घटना की जानकारी में लेकिन मधुसुदनपुर पुलिस पहुंचकर मामले को शांत करवाया।

 

मुखिया नीलू देवी ने बताया कि बिना सूचना के ग्रामीण सुबह ही मेरे घर पर पहुंच गए, सूचना देना चाहिए, हालांकि ग्रामीण पहुंचे तो हम सबको कुर्सी दिए बैठने के लिए, मामले को लेकर प्रखंड विकास पदाधिकारी का कहना है कि संबंधित अधिकारी को निर्देश दे दिया गया है, जल्द ही पानी की समस्या को दुरुस्त कर दी जाएगी।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer