Search
Close this search box.

बछवाड़ा में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया श्रावणी झूला महोत्सव

  • भक्ति गीतों व भाव नृत्य के बेहतरीन प्रस्तुति से कलाकारों ने रात भर बांधे रखा शमां।

न्यूज4बिहार: बछवाड़ा (बेगूसराय)प्रखण्ड क्षेत्र के रानी तीन पंचायत स्थित राम जानकी ठाकुरवाड़ी प्रांगण मे सावन माह के पावन अवसर पर चल रहे। पांच दिवसीय झुला महोत्सव के तीसरे दिन बनारस से पधारे भजन गायक और गायिका के भजन पर रात भर झूमते रहे श्रद्धालु। कार्यक्रम के दौरान ठाकुरवाड़ी के महंत राघवेन्द्र दास जी कहा कि जिन पर इनकी कृपा होती है,वही झुला सुख प्राप्त करने इनके दरबार में आते है।जिस जीव के जीवन में रस नहीं है उसका जीवन ही निराश है । ऐसे उदासीन जीव का जीवन व्यर्थ है।उन्होंने कहा कि जीव को भी सच्चे सुख की अनुभूति होती है । ब्रम्हा,शंकर भगवान सहित सभी देवी देवताओं को झूले का आनंद लेने पृथ्वी लोक पर आना पड़ता है। और
भगवान को भी भक्तों के बीच झूला झूलाने पर प्रसन्न होकर आशीर्वाद देते हैं। झूलनोत्सव कार्यक्रम के तीसरे दिन बनारस से पधारे मशहूर भजन गायक मंजय सिंह और भजन गायिका मगला सलोनी व बेगूसराय जिले से भजन गायक रुपेश कुमार ने शिरकत किया। कार्यक्र्म की शुरुआत मंजय सिंह के गणेश वंदना से करते हुए एक से एक भजन की प्रस्तुत की गयी। कार्यक्रम में मौजूद भजन गायक के द्वारा गाए गए भजन ‘सांसो की माला में सिमरूं में पी का नाम,अपने मन जानू औरो की मन के राम,हमरी अटरिया पे अजा रे सावरिया देखा देखी तनक हो जाई,बोले पिजरे का तोता राम रे हरेराम शिया हरे राम रे..आदि भजन सुन श्रद्धालुओ ने तालियाँ बजाकर गायक का हौसला अफजाही किया। वही बनारस से से पधारी गायिका मगला सलोनी के भजन हमारे घर रामा सीता विताये,कान्हा आन परे तेरे द्वार,बाके सैईया न जाने मन की बतिया हो राम,मै तो उठा नहीं पाई,तो बालू ले आई समेत एक से बढकर भजन सुन रात भर झूमते रहे श्रोता। वही बेगूसराय जिले से आये भजन गायक रुपेश कुमार के द्वार भजन झुला झूले से नंदलाल,यशोमती मैया के गोपाल,मै हूँ सरण में तेरी संसार के रचैया,कस्ती मेरी लगा दो उस पर है कन्हैया आदि भजनों की प्रस्तुति पर मौजूद लोगों को मंत्र मुक्त कर दिया। और सभी श्रोता को झूमने को मजबूर कर दिया । वहीं मौजूद दर्शकों ने बीच-बीच में तालियां बजाकर कलाकारों के हौसला अफजाई करते रहे । कार्यक्रम के संयोजक राजेश कुमार राय उर्फ दारा सिंह ने बताया कि यह झूलनोत्सव कार्यक्रम पांच दिवसीय है जो 30 अगस्त तक चलेगा। उन्होंने बताया कि अंतिम दिन बंगाल से नामचीन गायक और गायिका समेत एक से बढ़कर कलाकार का आगमन होने जा रहा है जिसके द्वारा भजन और झांखी कार्यक्रम प्रस्तुत किया जायगा। मौके पर पूर्व मुखिया राम पुकार राय, सरपंच सरोज राय,अरुण कुमा मित्र,मुकेश कुमार राय उर्फ छोटे,अशोक राय,डॉ रामकृष्ण,मृत्युंजय राय,संजीव कुमार,राजीव कुमार, मनोज सिन्हा, विजय पाठक आदि सैकड़ों महिला और पुरुष मौजूद थे ।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer