Search
Close this search box.

अमनौर में अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर बाल स्वयंसेवकों के साथ लगाया गया योग दर्शन संवाद शिविर

एच.आर. कॉलेज, अमनौर में अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर बाल स्वयंसेवकों के साथ लगाया गया योग दर्शन संवाद शिविर।

“वसुधैव कुटुम्बकम् के लिए योग” की संकल्पना के साथ राष्ट्रीय सेवा योजना एच. आर. कॉलेज, अमनौर के द्वारा महाविद्यालय खेल परिसर में योग दर्शन संवाद शिविर का आयोजन अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रातः काल में सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर प्राचार्य परवेज अहमद, एन.एस.एस. यूनिट -1 के कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ. रणजीत कुमार, राजनीतिशास्त्र के प्राध्यापक श्री सोनु कुमार, रसायनशास्त्र के पूर्व प्राध्यापक डॉ. लाल बाबू गुप्ता, श्री भगवान महावीर पीजी कॉलेज, सारनाथ के आचार्य श्री शैलेश कुमार, कन्या मध्य विद्यालय के श्री राजन कुमार, मनोरंजन कुमार सिंह तथा स्वयंसेवकों में विक्की कुमार, अनुभव मव, सोनालीकुमारी, आदर्श कुमार, प्राची कुमारी, रौशनी कुमारी, अंजनी कुमारी, अनन्या इत्यादि उपस्थित रहें। शिविर का शुभारम्भ आगत अतिथियों को पुष्पमाला से प्राचार्य ने किया। प्राचार्य परवेज अहमद ने योग के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि – आज भौतिकवादी दौर में जिस तरह मानव मन, तन और व्यवहार दुषित हो रहा है, ऐसे में योग एकमात्र ऐसी भारतीय युक्ति है, जिससे जीवन में उतारकर कायिक, वाचिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ्य हुआ जा सकता है। डॉ. रणजीत कुमार ने पतंजलि योग दर्शन को विश्व मानव का सबसे बड़ा उपहार बताते हुए विश्व गुरू भारत द्वारा योग के प्रचार-प्रसार एवं इसकी संभावनाओं पर प्रकाश डाला। वहीं श्री सोनु कुमार ने आत्मा और परमात्मा के बीच एकमात्र संवाद का माध्यम योगाभ्यास को बतलाया। योगगुरू मनोरंजन कुमार ने शिविर में कपाल भाति, प्रणायाम, अनुलोम-विलोम आदि योग का अभ्यास कराया। शिविर समापण के बाद बाल स्वयंसेवकों के साथ उपस्थित आचार्यों एवं स्वयंसेवकों द्वारा हास्य-कथा का आयोजन हुआ।जिससे बाल सुलभ मुस्कान से पूरा महाविद्यालय परिसर प्रफुल्लित हो उठा।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer