Search
Close this search box.

Gangster Lawrence Bishnoi reach increasing police agencies shocked bloody gang war in Tarn Taran jail

हाइलाइट्स

देश के सबसे कुख्यात गैंगस्टरों में नए डॉन लॉरेंस बिश्नोई का नाम तेजी से उभरा.
उसके गैंग ने पंजाब की तरनतारन जेल में खूनी गैंगवार को अंजाम दिया.
सिद्धू मूसेवाला के हत्यारे पंजाब की जेल में धड़ल्ले से मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर रहे.

चंडीगढ़. देश के सबसे कुख्यात गैंगस्टरों में नए डॉन लॉरेंस बिश्नोई (Lawrence Bishnoi) का नाम तेजी से उभरा है. उसके गैंग ने पंजाब की जेल में जिस खतरनाक खूनी गैंगवार को अंजाम दिया, उससे साबित हो गया कि कैसे कैलिफोर्निया में बैठे गोल्डी बराड़ ( Goldie Brar) और जेल में बन्द लॉरेंस बिश्नोई के इशारे पर पंजाब के तरनतारन (Tarn Taran) की गोईंदबल जेल में गैंगवार को अंजाम दिया गया. जिसमें दो गैंगस्टर को मौत के घाट उतार दिया गया. बताया जाता है कि मशहूर पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला ( Sidhu Musewala) के हत्यारे पंजाब की जेल में धड़ल्ले से मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर रहे हैं.

तरनतारन की जेल में हुए गैंगवार में जिन दो गैंगस्टरों की हत्या की गई, वो दोनों कभी लॉरेंस बिश्नोई के ‘हम प्याला हम निवाला’ रहे जग्गू भगवानपुरिया के शूटर थे. लेकिन जग्गू ने लॉरेंस बिश्नोई से बगावत कर दी. उसके बाद गोल्डी बराड़ और लॉरेंस के इशारे पर जग्गू के इन दोनों शूटरों- मनमोहन मोना और मंदीप तूफान की जेल में हत्या कर दी गई. पहले भी सिलसिलेवार तरीके से पंजाब की जेलों में कानून-व्यवस्था की धज्जियां उड़ती रही हैं. इससे जुड़े कुछ वीडियो भी सामने आ चुके हैं. जब जेल में गैंगवार खत्म हुई तो उस समय सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड का आरोपी शूटर सचिन भिवानी जेल के अंदर सरेआम मोबाइल पर एक वीडियो बनाता है.

लॉरेंस बिश्नोई गैंग: पुलिस कस रही शिकंजा, मूसावाला हत्याकांड का आरोपी गिरफ्तार, अब खोलेगा राज

सबसे हैरत की बात है कि मूसेवाला की हत्या के आरोपियों तक मोबाइल फोन कैसे पहुंचा? इस वीडियो में गैंगवार में मौत के घाट उतार दिए गए मनमोहन मोना और मंदीप तूफान की लाश तक को रिकॉर्ड किया गया है. यह सनसनीखेज वीडियो जेल प्रशासन के ऊपर बेहद गंभीर सवाल खड़े कर रहा है. जबकि एक दूसरे वीडियो में सचिन भिवानी के साथ जेल में मूसेवाला हत्याकांड के बाकी आरोपी भी नजर आ रहे हैं. ये सभी मनमोहन मोना और मनदीप तूफान की मौत का जश्न मनाते दिख रहे हैं. जिनमें मूसेवाला हत्याकांड के आरोपी अंकित सिरसा, कुलदीप और दीपक मुंडी शामिल हैं. जाहिर तौर पर देश के नए डॉन लॉरेंस बिश्नोई की क्राइम कंपनी ने जेल मे इस वारदात को अंजाम देकर न केवल सुरक्षा एजेंसियों को सकते में डाल दिया है बल्कि पंजाब पुलिस के पसीने छुड़ा दिए हैं.

Tags: Crime News, Gangsters in Punjab, Lawrence Bishnoi, Punjab Police

Source link

Leave a Comment