Search
Close this search box.

Police destroyed the poppy crop planted in 8 acres in palamu

नील कमल

पलामू. झारखंड के पलामू जिला में अफीम की खेती का पर्दाफाश हुआ है. पुलिस यहां अफीम के कारोबारियों के खिलाफ लगातार मुहिम चला रही है. पुलिस पोस्ता की खेती को नष्ट करने में जुटी है. मंगलवार को पुलिस के द्वारा मनातू थाना क्षेत्र के उरूर जंगल के पास आठ एकड़ खेत में लगी पोस्ते की फसल नष्ट की. पुलिस की इस कार्रवाई से अफीम की खेती करने वालों में हड़कंप मच गया है.

पलामू के पुलिस अधीक्षक (एसपी) चंदन कुमार सिन्हा को गुप्त सूचना मिली थी कि मनातू थाना क्षेत्र के उरूर जंगल के पास बड़े पैमाने पर पोस्ते की खेती की जा रही है. कारोबारी पोस्ते में चीरा लगाकर अफीम निकाल रहे हैं. इसके बाद एसपी ने थाना प्रभारी कमलेश कुमार के नेतृत्व में एक टीम गठित कर कार्रवाई का निर्देश दिया. कमलेश कुमार दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और लाठी-डंडे से पोस्ते की फुसल को नष्ट किया.

थाना प्रभारी कमलेश कुमार ने बताया कि पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आठ एकड़ भूमि में लगी पोस्ते की फसल को नष्ट किया गया है. साथ ही, आस-पास के लोगों को समझाया गया है कि पोस्ते की खेती गैर-कानूनी है. इसमें संलिप्त रहने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी. इसलिए वो किसी के बहकावे में ना आएं. उन्होंने कहा कि सभी अफीम कारोबारियों के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई जारी रहेगी.

Tags: Crime News, Jharkhand news, Opium, Palamu news

Source link

Leave a Comment