Search
Close this search box.

प्रतिभा को सम्मानित किये जाने पर हौसला बढ़ता है उनमें आत्मविश्वास पैदा होता है – मंत्री जितेंद्र राय

  • कला एंव शिक्षा ही एक बेहतर समाज की निर्माण करती है -मंत्री जितेंद्र राय
  • 85 लोगों को समाज में विशेष योगदान के लिए मिला प्रतिभा रत्न अवॉर्ड – मेलोड्रामा
  • समाज के उत्थान में शिक्षा का महत्वपूर्ण स्थान- एटीओ डॉ. संतोष कुमार
  • मंत्री व कई वरिय पदाधिकारियों के हाथों ये होनहार हुए सम्मानित

सारण- मेलोड्रामा वेलफेयर सोसाइटी, नई दिल्ली के बहुचर्चित मुहिम “हौसला” द्वारा आयोजित “प्रतिभा रत्न अवार्ड” सारण के प्रेक्षागृह में संपन्न हुआ। इसमें बिहार के कई जिले में मैट्रिक व इंटर की परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करने वाले मेधावी छात्र-छात्राओं सम्मानित किया गया। साथ ही शिक्षा और सामाज के विकास के लिए कार्य कर रहे शिक्षाविद् एवं सामाजिक कार्यकर्ता भी “प्रतिभा रत्न”- 2023 से संमानित हुए।

समारोह का उद्घाटन सम्मिलित रूप से दीप प्रज्वलित कर कला-संस्कृति मंत्री बिहार सरकार श्री जितेंद्र राय और कुमार राजीव , सत्यप्रकाश यादव, ज्ञान प्रकाश, सहायक कोषागार पदाधिकारी डॉ. संतोष कुमार , डीआरडीए डायरेक्टर बलदेव चौधरी,बाल संरक्षण पदाधिकारी धर्मवीर सिंह, ई.विजय राज, नितु गुप्ता, बिंदिया जयसवाल , अर्जुन सिंह ने की।

अपने संबोधन में मुख्य अतिथि बिहार सरकार कला,संस्कृति,खेल मंत्री श्री जितेन्द्र राय ने शिक्षा के महत्व पर प्रकाश डाला। कहा कि समाज की तरक्की के लिए शिक्षा जरूरी है। शिक्षा के बिना मानव जीवन अधूरा है और इस तरह के कार्यकर्म् हमेशा होने चाहिए।
समारोह की अध्यक्षता मेलोड्रामा वेलफेयर सोसाइटी के सचिव सरोज कुमार सिंह ने की और बताया की उनकी “हौसला” का विज़न बहुत ही बड़ा है इसमे कला शिक्षा और समाज के हीरो सभी को प्रोत्साहित करना है जिसे एक बेहतर समाज की कल्पना को साकार किया जा सके।
वही मंच संचालन का का भार शिक्षाविद डॉ. मनोज वर्मा संकल्प ने किया एवं आगत अतिथियों का स्वागत ई.विजय राज ने की।
“प्रतिभा रत्न अवार्ड” समारोह में बिहार थर्ड टाॅपर अदिति कुमारी, तनू कुमारी सहित बिहार के कई जिले से आए लगभग 250 टॉपर्स छात्र-छात्राओं को प्रतिभा रत्ना अवार्ड 2023 से सम्मानित किया।
वही डॉ. संतोष कुमार ने मेलोड्रामा को इस तरह का सम्मान समारोह आयोजित करने के लिए सर्वाधिक शुभकामनाएँ दी और कहा कि सम्मानित होने वाले बच्चों में अपनी जिम्मेदारियों एवं दायित्वों के निर्वहन की समझ बढ़ती है और वे अपने एवं देश के भविष्य निर्माण में बखूबी जुटने लगते हैं | कुमार राजीव ने कहा कि हौसला द्वारा ग्रामीण छात्रों को मंच दिए जाने से उन्हें उच्च शिक्षा के प्रति आकर्षण बढ़ता है। जदयू प्रदेश सचिव सत्याप्रकाश यादव ने कहा कि शिक्षा पाने का लक्ष्य केवल निजी या सरकारी विभाग में उच्च पदों पर आसीन होना नहीं है , बल्कि श्रेष्ठ समाज की रचना में सक्रिय भूमिका का निर्वहन करना है।
ज्ञान प्रकाश ने कहा कि गुरु के बिना समाज अधूरा है। बिना शिक्षक के समाज में अच्छे नागरिकों की कल्पना नहीं की जा सकती है। शिक्षक जीवन का सार हैं। शिक्षक एक मनुष्य को समाज के लिए एक नागरिक बनाता है। मेलोड्रामा द्वारा अपने दायित्वों के निर्वहन से आगे बढ़कर शिक्षकों को उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किया जाना सराहनीय कार्य है। वक्ता के रूप में रिवेल के प्रवंध निर्देशक विक्की आनंद ने खूब तालियाँ बटोरी |मेलोड्रामा द्वारा आयोजित इस प्रतिभा सम्मान समारोह को सफल बनाने में कुमार राजीव डारेक्टर कैरियर दर्पण, सुधांशु सिंह, डारेक्टर ऑक्सफोर्ड बिजनेस कॉलेज पटना, राजू मिश्रा, मानव रचना विश्वविद्यालय, राजकुमार राय आशा जांच घर, अंकित सिंह, अभिषेक प्रताप सिंह, निरज राज समाजसेवी धर्मेंद्र कुमार, अजय राय आदि अन्त तक हटे नहीं बल्कि डटे रहे | इस समारोह में मुख्य रूप से धर्मेंद्र कुमार,गजेंद्र राय,पवन कुमार, प्रमोद सिंह, सचिन कुशवाहा, प्रिया गुप्ता, अभिषेक आनंद,गुड्डु कुमार,नितिन कुमार, ई.राजेश कुमार सहित सैकड़ों लोगों मौजूद रहे।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer